नेञ चिकित्सालय


नेञ चिकित्सालय की स्थापना 2007 में की गई। जिसमें पुरूषां एवं महिला प्रत्येक के लिये 25-25 बेड का वार्ड भी उपलब्ध है। जिला अन्धता निवारण समिति, चितौङगढ एवं बोथरा चेरिटेबल ट्रस्ट की मदद से निःशुल्क नेञ शिविरों का आयोजन किया जाता है, जिसमें गत वर्ष 1200 नेञ ऑपरेशन का लक्ष्य प्राप्त किया। इस वर्ष 1500 नेञ ऑपरेशन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। अभी तक 131 केंपों में मोतियाबिंद के 11648 सफल ऑपरेशन किये जा चुके हैं.